क्यों लड़के लड़कियों से अलग हैं ? देखिये वो अंतर जो बनाते हैं इन्हे अलग !!

वैसे तो लड़के लड़कियों से हर चीज़ में अलग हैं चाहे वो शारीरिक हो या इमोशनल ! इनमे इतनी असमानता हैं ,तभी तो कहा जाता है लड़के और लड़कियां अलग अलग ग्रह से हैं ,लड़कियां अगर शुक्र से हैं तो लड़के मंगल से ! लड़के लड़कियों से एक दम अलग हैं देखिये कैसे हैं ये एक दूसरे से अलग !

 

1 ) एक दूसरे को देखने का तरीका -लड़के लकड़ियों को बेशर्मी से देखते हैं या एक टक लगा कर भी देखतें हैं पर लड़कियों को अगर लड़कों को देखना हो तो वो बड़ी चालाकी से देखती हैं ताकि किसी और को पता भी न चले !

gg7

 

2)लड़के और लड़कियों का कमरा – लड़कों का कमरा कैसा होता हैं सब जानते हैं ,लड़के कभी ध्यान नहीं रखते के कौन सा सामान कहाँ रखना है जबकि लड़कियों को सफाई पसंद होती है ! उन्हें हर सामान अपनी अपनी जगह चाहिए और कमरा एक दम साफ़ !

 

men

3 )desktop  में अंतर – जहाँ तक बात हैं लड़कियों के डेस्क की वो एक दम साफ मिलेगा और लड़को का गन्दा वहीँ इनके लैपटॉप या कंप्यूटर के डेस्कटॉप की बात हैं तो इस मामले में लड़के सफाई पसंद होते हैं और लड़कियों के कंप्यूटर और लैपटॉप के डेस्कटॉप की हालत कुछ इस तरह की होती है !

 

12

4 )तैयार होने में अलग –

अगर कोई लड़की कही जाने के लिए तैयार होने लगे तो उसे कम से कम २ ghante चाहिए तैयार होने को ,और लड़के 5 mintues में तैयार हो jate हैं ! मानो या मत मानो ये सच है ,आजमा कर देख लो !

5

5 )छुट्टियां पे जाने के लिए पैकिंग करना – छुट्टियों पे , चाहे एक दिन के लिए बाहर जाना है तो लड़कियों पूरा एक दिन लहएंगी पैकिंग में ! बच्चों का सामान ,खुद का सामान ,शूज ,कपडे ,शैम्पू से लेकर
कंघी तक एक एक चीज़ पैक करेंगी वहीँ लड़के पांच मिनट्स में अपने ज़रूरी सामान पैक कर के तैयार हो जाते हैं ! देखिये कैसे –

men 7

6) ये देखिये  – लड़के और लड़कियों का खुद को देखने का तरीका भी कितना अलग होता है ! ऐसे ही तो लड़कियां लड़कों से अलग नहीं हैं , खुद को शीशे में देख कर लड़कियां सोचती हैं के वो मोटी हो गई है जबकि लड़के क्या सोचते हैं देखिये !

 

10

7) सोशल मीडिया में अंतर – सोशल मीडिया में लड़कों और लड़कियों में ये अंतर लड़कों के लिए जरूर दुखदायी होगा तभी तो आजकल लड़के ,लड़कियों के नाम का प्रोफाइल बना के सोशल मीडिया का प्रयोग करते हुए दिखयी देते हैं ! देखिये –

facebbok

 

8) रिलेशनशिप में फर्क -ऐसा माना जाता है के जब एक रिश्ता टूटता हैं वो लड़कियों के मुकाबले लड़के जल्दी उससे बाहर आ जाते हैं और फिर से सामान्य हो जाते हैं ! लड़कियां उनके मुकाबले रिश्ता टूटने के दुःख से धीरे धीरे बाहर आती हैं पर लड़के पहले तो इससे जल्दी उबर जाते हैं पर बाद में उन्हें इसका दुःख होता है और समान्य होने में उन्हें समय लगता हैं !

 

week

9)अंत में – अगर लड़कियों और लड़को के बीच एक रेस लगायी जाये तो जैसे के कहा जाये के मॉल में जा कर किसी चीज़ की शॉपिंग कर के लानी है ! लड़के तो जा कर सामान्य तरीके से वही करेंगे जो कहा गया है पर लड़कियां क्या और कैसे करती है देखिये !

shp